कंप्यूटर कीबोर्ड (Computer Keyboard) और कुंजियों के प्रकार

पेपर पर टाइप करने के लिए पहले लोग टाइपराइटर का इस्तेमाल करते थे। पर कंप्यूटर बनने के बाद अब ज्यादातर टाइपिंग वाले काम कंप्यूटर पर ही होते है। और कंप्यूटर में टाइपिंग वाले काम करने के लिए हमें कीबोर्ड का उपयोग करना होता है।

कंप्यूटर कीबोर्ड

कंप्यूटर कीबोर्ड एक इनपुट डिवाइस है जिसे हम कंप्यूटर में टाइपिंग करके डाटा एंटर करने के लिए इस्तेमाल करते है। कीबोर्ड में जो बटन होते है उन्हें कीस (Keys) कहते है। शुरुआत में जब कंप्यूटर बना था तब माउस नहीं हुआ करता था, तब लोग कीबोर्ड से ही कंप्यूटर को सारा कमांड दिया करते थे। लगभग हर कंप्यूटर QWERTY स्टैण्डर्ड पर आधारित होता है इसलिए अगर आपने एक कंप्यूटर कीबोर्ड को चलना सीख लिया तो आपको दूसरे कीबोर्ड पर भी काम करना आसान होजाता है। मोबाइल फ़ोन का कीबोर्ड भी कंप्यूटर कीबोर्ड जैसा ही होता है।

नीचे दिए गए फोटो में आप देख सकते है कि एक डेस्कटॉप कंप्यूटर और लैपटॉप का कीबोर्ड कैसा दिखता है -

डेस्कटॉप कंप्यूटर और लैपटॉप का कीबोर्ड


फोटो में आप देख सकते है की एक डेस्कटॉप कंप्यूटर और लैपटॉप के कीबोर्ड के ज्यादातर कीस एक ही जैसे ही है।

और, अब मैं आपको बताने जा रहा हू की हर कंप्यूटर कीबोर्ड में कौन से कॉमन कीस होते है।

कीबोर्ड में कुंजियों के प्रकार (Types of keys in Keyboard)

१. Escape key - कीबोर्ड के ऊपरी बाएं कोने में, आपको Esc key मिलेगा। जब फाइल कॉपी करने जैसी कोई प्रक्रिया चल रही हो और आप इसे रद्द करना चाहते हैं, तो आप वर्तमान प्रक्रिया को रद्द करने के लिए इस कुंजी का उपयोग कर सकते हैं। आप कुछ एप्लिकेशन विंडो को बंद करने के लिए Esc कुंजी का भी उपयोग कर सकते हैं।

२. Function keys - Esc कुंजी के बगल में, आपको बारह F कुंजियों की एक श्रृंखला मिलेगी जो F1 से शुरू होती है और F12 पर समाप्त होती है। इन 12 कुंजियों को फ़ंक्शन कीस कहा जाता है और प्रत्येक F कुंजी का एक अलग कार्य होता है। F1 कुंजी से हम किसी भी सॉफ्टवेयर का हेल्प फाइल ओपन करते है। F2 कुंजी का उपयोग करके आप किसी फाइल और फोल्डर का नाम बदल सकते है। कुछ फ़ंक्शन कुंजियाँ कुछ सॉफ्टवेयर में कोई कार्य नहीं कर सकती हैं, उदाहरण के लिए, F2 कुंजी माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में कोई कार्य नहीं करती है।

३. Numeric keys - कीबोर्ड के दाईं ओर, आपको नंबर और ऑपरेटर बटन जैसे + (जोड़), - (घटाव), * (गुणा), / (भाग) दिखेंगे। इन कीस को न्यूमेरिक कीस कहते है और कीबोर्ड के इस साइड को नंबर पैड या न्यूमेरिक पैड कहते है। यह वैसा ही दिखता है जैसा आप एक कैलकुलेटर में देखते हैं। न्यूमेरिक कीपैड को चालू या बंद करने के लिए आप Num Lock कुंजी का उपयोग करते है। कुछ लैपटॉप आकार में इतने छोटे होते हैं कि उनमें संख्यात्मक कीपैड नहीं हो सकता है जो हम आमतौर पर स्टैंडर्ड लैपटॉप कीबोर्ड में देखते हैं।

४. Arrow keys - एक कीबोर्ड में कुल चार तीर कुंजियाँ (arrow keys) न्यूमेरिक कीपैड के नीचे बाईं ओर होती हैं। आप इन कुंजियों का उपयोग किसी पृष्ठ, डेस्कटॉप या किसी विंडो में ऊपर, दाएं, नीचे और बाएं दिशाओं की ओर बढ़ने के लिए कर सकते हैं। कभी-कभी तीर कुंजियों का उपयोग विंडोज की, ऑल्ट की, Ctrl की और शिफ्ट की के साथ भी किया जाता है।

५. Alphanumeric keys - अल्फ़ान्यूमेरिक कुंजियाँ आधे से अधिक कीबोर्ड क्षेत्र को कवर करती हैं और इनका उपयोग अक्षर, विराम चिह्न और सिम्बॉलिक करैक्टर टाइप करने के लिए किया जाता है। एल्फाबेट कुंजियों की पहली पंक्ति के ऊपर, आप देखेंगे कि न्यूमेरिक कुंजियाँ उपलब्ध हैं जिनका उपयोग @, #, $ आदि जैसे प्रतीकों को टाइप करने के लिए भी किया जाता है। जब एक ही कुंजी पर दो वर्ण मुद्रित होते हैं और आपको टॉप वाली कुंजी टाइप करनी है तो आप Shift कुंजी का उपयोग करते हैं। उदाहरण के लिए; अगर आपको % टाइप करना है तो आप सबसे पहले शिफ्ट की दबाएंगे और शिफ्ट की को दबाए रखते हुए % की दबाएं।

६. Enter key (एंटर कुंजी) - जिस एप्लिकेशन पर हम काम कर रहे हैं उसके अनुसार एंटर कुंजी विभिन्न कार्य करती है। यदि आप कोई फ़ाइल या फ़ोल्डर चुनते हैं, तो आप फ़ाइल या फ़ोल्डर को खोलने के लिए Enter कुंजी का उपयोग कर सकते हैं। जब आप कैलकुलेटर पर काम कर रहे हों, तो आप परिणाम प्राप्त करने के लिए एंटर कुंजी का उपयोग कर सकते हैं। और, जब आप किसी टेक्स्ट एडिटर या दस्तावेज़ पर टाइप कर रहे हों, तो आप नई लाइन पर जाने के लिए एंटर कुंजी का उपयोग कर सकते हैं।

७. Spacebar key - स्पेसबार की एक कंप्यूटर कीबोर्ड की सबसे बड़ी कुंजी होती है। टाइपिंग करते वक़्त अगर आप दो अक्षर या शब्दों के बीच एक रिक्त स्थान देना हो तो आप स्पेसबार कुंजी का उपयोग कर सकते है। बहुत से वीडियो गेम्स को शुरू करने के लिए भी आप स्पेसबार कुंजी का उपयोग कर सकते है। ज्यादातर मीडिया प्लेयर जैसे की VLC मीडिया प्लेयर, QuickTime Player में आप वीडियो को चलाने के लिए स्पेसबार कुंजी का उपयोग कर सकते है।

८. Tab key - आपको Tab कुंजी एक कीबोर्ड में बाईं ओर Caps Lock कुंजी के ऊपर मिलेगी। Microsoft Excel में आप इस कुंजी का उपयोग एक सेल से दूसरे दाएँ सेल में जाने के लिए कर सकते हैं। माइक्रोसॉफ्ट वर्ड, नोटपैड और अन्य टेक्स्ट एडिटर्स में, आप दो अक्षरों या शब्दों के बीच एक रिक्त स्थान जोड़ने के लिए टैब कुंजी का उपयोग कर सकते हैं। एक सक्रिय एप्लिकेशन विंडो में, आप इस कुंजी का उपयोग एक बटन से दूसरे बटन पर जाने के लिए भी कर सकते हैं। जब आप विंडोज कुंजी के साथ टैब कुंजी को दबाते हैं, तो आप अपने कंप्यूटर डेस्कटॉप पर वर्तमान में खुली हुई सभी एप्लिकेशन विंडो देखेंगे।

९. Caps Lock key - टैब (Tab) कुंजी के ठीक नीचे, आपको कैप्स लॉक कुंजी मिलेगी और यह एक स्विच के रूप में कार्य करती है। जब आप कैप्स लॉक कुंजी को चालू करते हैं और टाइप करते हैं, तो अक्षर कैपिटल लेटर्स में दिखाई देंगे। और, जब आप कैप्स लॉक कुंजी को बंद करते हैं और टाइप करते हैं, तो अक्षर स्माल लेटर्स में दिखाई देंगे।
जब आप शिफ्ट कुंजी का उपयोग करते हैं, तो कैप्स लॉक कुंजी विपरीत रूप से काम करती है। यदि कैप्स लॉक चालू है और आप टाइप करते समय Shift कुंजी दबाते हैं, तो अक्षर स्माल लेटर्स में दिखाई देंगे। और, यदि कैप्स लॉक बंद है और आप टाइप करते समय Shift कुंजी दबाते हैं, तो अक्षर कैपिटल लेटर्स में दिखाई देंगे।

१०. Shift key - हर कीबोर्ड में दो शिफ्ट की होती हैं - एक को कैप्स लॉक की के नीचे रखा जाता है और दूसरा आपको एंटर की के नीचे रखा जाता है। दोनों शिफ्ट कुंजियाँ समान कार्य करती हैं और आपके काम को आसान बनाने के लिए दी जाती हैं। कीबोर्ड में कुछ कुंजियाँ होती हैं जहाँ आप देखेंगे कि एक अक्षर सबसे नीचे रखा गया है और दूसरा अक्षर कुंजी के शीर्ष पर रखा गया है। ऐसे शीर्ष अक्षरों को टाइप करने के लिए, आपको Shift कुंजी का उपयोग करना होगा। Ctrl और Tab कुंजियों के साथ भी Shift कुंजियों का उपयोग किया जाता है।

११. Ctrl key - Shift कुंजी के नीचे, आपको Ctrl कुंजी मिलेगी जिसे कंट्रोल कुंजी कहा जाता है। कुछ लैपटॉप में केवल एक Ctrl कुंजी होती है, हालांकि अधिकांश कीबोर्ड में दो Ctrl कुंजी होती है। Ctrl कुंजी का उपयोग किसी कार्य को करने के लिए, शॉर्टकट कुंजी के रूप में, अन्य कुंजियों के साथ संयोजन में किया जाता है। उदाहरण के लिए: Ctrl + A का उपयोग आपके द्वारा किसी डॉक्यूमेंट में जोड़ी गई सभी कंटेंट को चुनने के लिए किया जाता है। डॉक्यूमेंट को प्रिंट करने के लिए Ctrl + P का उपयोग किया जाता है।

१२. Windows key - सभी आधुनिक कीबोर्ड एक या दो विंडोज की (key) के साथ आते हैं। आप विंडोज की को दबाकर सीधे स्टार्ट मेन्यू खोल सकते हैं। कीबोर्ड पर विंडोज कुंजी को पहचानने के लिए विंडोज के लोगो वाला कुंजी देखे। विंडोज कुंजी को विशिष्ट कार्य करने के लिए शॉर्टकट के रूप में कुछ अन्य कुंजियों के साथ भी उपयोग किया जाता है। जब आप विंडोज कुंजी के साथ टैब कुंजी दबाते हैं, तो यह आपको वर्तमान में खुली हुई सभी सक्रिय विंडो दिखाता है। और, जब आप विंडोज कुंजी के साथ P कुंजी दबाते हैं, तो यह आपको प्रोजेक्शन विकल्प दिखाता है।

१३. Alt key – हर कीबोर्ड में दो Alt key होती हैं और कुछ कीबोर्ड में दोनों Alt key के अलग-अलग फंक्शन होते हैं। Alt कुंजी का सबसे आम उपयोग माउस का उपयोग किए बिना सीधे एप्लिकेशन मेनू और कमांड तक पहुंचना है। जैसे - माइक्रोसॉफ्ट वर्ड में होम, इन्सर्ट, व्यू जैसे टैब्स ओपन करने के लिए Alt कुंजी दबाने से हॉट कीस दीखते है। फ़ाइल टैब के लिए F, होम टैब के लिए H। कुछ कीबोर्ड में, आप दाएँ Alt कुंजी के साथ एरो कुंजियाँ दबा के डेस्कटॉप स्क्रीन को घुमा सकते है।

१४. PrntScr key - PrntScr को प्रिंट स्क्रीन कहा जाता है, इसका उपयोग स्क्रीनशॉट लेने के लिए करते है। स्क्रीनशॉट ली हुई फाइल क्लिपबोर्ड में सेव होजाता है। आप पेंट या माइक्रोसॉफ्ट वर्ड जैसे प्रोग्राम ओपन करके स्क्रीनशॉट को पेस्ट कर सकते है।

१५. Insert key - इन्सर्ट की एक स्विच की तरह काम करती है जिसे आप चालू या बंद कर सकते हैं। जब आप इसे चालू करते हैं और फिर टाइप करते हैं, तो यह कर्सर के आगे के अक्षर को बदल देगा। उदाहरण के लिए: यदि आपने 'smash' शब्द टाइप किया है और टेक्स्ट इंसर्शन पॉइंट 'a' से पहले है। अब, जब आप इन्सर्ट कुंजी को चालू करते हैं और 'e' टाइप करते हैं, तो यह अक्षर 'a' को 'e' से बदल देगा, और 'smash' शब्द 'smesh' बन जाएगा।

१६. Delete key – अगर आपको अपने कंप्यूटर से किसी फाइल या फोल्डर को हटाना है तो आप Delete key का इस्तेमाल कर सकते हैं। आप इस कुंजी का उपयोग किसी डॉक्यूमेंट में टेक्स्ट, फोटो या अन्य प्रकार की वस्तु को हटाने के लिए भी कर सकते हैं। किसी शब्द को टाइप करते समय, यदि आप डिलीट कुंजी को दबाते हैं, तो यह कर्सर के दाईं ओर टेक्स्ट को हटा देगा। कुछ कीबोर्ड में, आप इस कुंजी पर Delete की जगह Del लिखा हुआ पाएंगे।

१७. Backspace key - जब आप कोई अक्षर या शब्द टाइप करते हैं और आप बैकस्पेस कुंजी दबाते हैं, यह कर्सर के लेफ्ट टेक्स्ट को डिलीट कर देगा। बैकस्पेस कुंजी का उपयोग करके, आप चयनित टेक्स्ट या शब्द को भी हटा सकते हैं। वेब ब्राउज़र में लिंक खोलते समय, आप पिछले वेबपेज पर वापस जाने के लिए बैकस्पेस कुंजी का उपयोग कर सकते हैं।

१८. Home key - होम की को बैकस्पेस की के पास रखा जाता है और जब आप इस की को दबाते हैं, तो कर्सर वर्त्तमान लाइन की शुरुआत में चला जाता है। आप वर्तमान स्थिति से वर्तमान पंक्ति की शुरुआत तक टेक्स्ट का चयन करने के लिए Shift + Home कुंजी का भी उपयोग कर सकते हैं।

१९. End key - जब आप एंड की दबाते हैं, तो यह कर्सर को वर्त्तमान लाइन के अंत तक ले जाता है। और, आप वर्तमान स्थिति से वर्तमान पंक्ति के अंत तक टेक्स्ट का चयन करने के लिए Shift + End कुंजी का उपयोग कर सकते हैं।

२०. Page Up key - एक डॉक्यूमेंट पेज पर अगर आप पेज अप कुंजी दबाते है तो डॉक्यूमेंट का वर्त्तमान पेज ऊपर होता है और वर्तमान ज़ूम परसेंटेज के हिसाब से स्क्रीन पर दीखता है। कुछ कीबोर्ड में Page Up की जगह PgUp लिखा रहता है।

२१. Page Down key - एक डॉक्यूमेंट पेज पर अगर आप पेज डाउन कुंजी दबाते है तो डॉक्यूमेंट का वर्त्तमान पेज नीचे होता है और वर्तमान ज़ूम परसेंटेज के हिसाब से स्क्रीन पर दीखता है। कुछ कीबोर्ड में Page Down की जगह PgDn लिखा रहता है।

२२. Num Lock key - जिन कीबोर्ड्स में न्यूमेरिक कीपैड होता है उनमे Num Lock की होता है। Num Lock key एक स्विच होता है जिसे आप ON या OFF कर सकते है। अगर Num Lock ON होगा तो न्यूमेरिक कीपैड काम करेगा, अगर ये OFF होगा तो न्यूमेरिक कीपैड काम नहीं करेगा।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ